कमलेश तिवारी हत्याकांड पर योगी ने तोड़ी चुप्पी, कहा: यह दहशत पैदा करने की साजिश, ऐसे तत्वों को कुचलकर रख देंगे

 

लखनऊ। हिंदू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्या के एक दिन बाद अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि भय और दहशत पैदा करने वाले जो भी तत्व होंगे, सख्ती के साथ उनके मंसूबों को कुचलकर रख देंगे। इस प्रकार के किसी भी वारदात को कतई स्वीकार नहीं किया जाएगा। जो भी इस घटना में सम्मिलित होगा, किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।

आदित्यनाथ ने कहा कि हत्यारे जिस रूप में आए और सुरक्षा गार्ड से पूछकर कमरे में गए। उसके बाद हत्यारोपियों ने कमलेश तिवारी के साथ जलपान किया और उनके निजी सहायक और तिवारी के बेटे को कुछ सामान खरीदने के लिए बाजार में भेज दिया। इसके बाद कमरे में जब वे अकेले हो गए तो उनकी हत्या कर दी गई।

योगी ने कहा कि, यह दहशत पैदा करने की शरारत है। इसमें कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है। तीन लोगों को गुजरात में और दो लोगों को उत्तर प्रदेश में हिरासत में लिया गया है। शेष अन्य लोगों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई करने की तैयारी चल रही है। लगातार दबिशें दी जा रही हैं. इस हत्याकांड की जांच स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम (एसआईटी) को दे दी गई है।

इस मामले की लगातार समीक्षा करेंगे
सीएम योगी ने कहा कि, “इस मामले में प्रभावी कार्रवाई करने के आदेश दे दिए गए हैं। शनिवार शाम को मैं इस मामले की फिर से समीक्षा करूंगा। भय और दहशत पैदा करने वाले जो भी तत्व होंगे, सख्ती के साथ उनके  मंसूबों को कुचलकर रख देंगे। इस प्रकार के किसी भी वारदात को कतई स्वीकार नहीं किया जाएगा। जो भी इस घटना में सम्मिलित होगा, किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।”

पहले गला रेता, फिर गोलियां मारीं

लखनऊ में 18 अक्टूबर को कमलेश की हमलावरों ने हत्या कर दी थी। दोपहर में दो लोग उनसे मिलने पार्टी ऑफिस आए थे। पहले उन्होंने कमलेश का गला रेता, फिर मिठाई के डिब्बे से पिस्तौल निकालकर गोलियां मारीं। कमलेश हिंदू महासभा के भी नेता रहे थे। वारदात के बाद हिंदू समाज पार्टी के कार्यकर्ताओं ने सड़कों पर प्रदर्शन किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *