गाजीपुर से ही चलेगी सुहेलदेव, गाजीपुर बान्द्रा और माता वैष्णोंदेवी एक्सप्रेस, लिखित आश्वासन के बाद समाप्त हुआ धरना

सुहेलदेव एक्सप्रेस, गाजीपुर बान्द्रा एक्सप्रेस व माता वैष्णों देवी कटरा गाजीपुर ट्रेनों के बलिया से संचालन के प्रस्ताव के विरोध में चल रहे क्रमिक अनशन को 11 दिनों बाद रेल मण्डल वाराणसी द्वारा लिखित आश्वासन मिलने के बाद आन्दोलन के संयोजक सामाजिक कार्यकर्ता विवेक कुमार सिंह शम्मी ने आन्दोलन समाप्ति की घोषणा की।

श्री सिंह ने बताया कि आज स्टेशन रोड स्थित धरना स्थल पर स्टेशन सुपरिटेण्डेन्ट, आर0पी0एफ0 इंसपेक्टर के साथ रेल मण्डल वाराणसी के कुछ पदाधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचे तथा आन्दोलनकारियों/प्रेस वालों से वार्ता किया। वार्ता के दौरान उन्होने बताया कि रेल मण्डल वाराणसी के अधिकारियों से उनकी बातचीत हुई है और रेल मण्डल वाराणसी ने उन्हें आदेशित किया है कि उनकी माॅगों को मानते हुए लिखित आश्वासन देने का काम करें और आन्दोलन को समाप्त करावें।

श्री सिंह ने बताया कि रेल मण्डल वाराणसी द्वारा लिखित आश्वासन मिलने पर अधिकारिक रूप से आन्दोलन के समाप्ति की घोषणा कर दी गयी। उन्होनें 23 सितम्बर 2019 से चल रहे इस आन्दोलन में साथ देने वाले समस्त जनपदवासियों, दस हजार हस्ताक्षरकर्ताओं के साथ-साथ क्षत्रिय महासभा, केमिस्ट एण्ड ड्रगिस्त एसोसिएशन, सिविल बार एसोसिएशन, आटो रिक्ता यूनियन संघ, स्वर्णकार संघ, व्यापार मण्डल, छात्रसंघ, सदभावना मंच, होटल एसोसिएशन गाजीपुर, अखिल भारतीय कायस्थ महासभा, ग्राम प्रधान संघ, राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के साथ-साथ सभी तमाम संगठनों व इस मुहीम में शामिल होकर समर्थन कर रहे तमाम जनपदवासियों का आभार व्यक्त किया।

मौके पर मौजूद केमिस्ट एण्ड ड्रगिस्ट के अध्यक्ष नागमणि मिश्रा, क्षत्रिय महासभा के अध्यक्ष राजकुमार सिंह, आटो यूनियन के अवधेश गुप्ता, सदभावना मंच के नसीम अहमद, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राजेन्द्र गाजी, श्री प्रकाश केशरी, मनीष कुमार राय, रामचन्द्र गुप्ता, पिण्टू राय, समाजसेवी विरेन्द्र सिंह, छात्रनेता रजनीश मिश्रा आदि शामिल रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *