दो ग्राम प्रधान सहित पांच के खिलाफ नोटिस से मचा हड़कंप

dm-ghazipur

गाजीपुर। जिलाधिकारी के निर्देश पर मंगलवार को बाराचवर ब्लाक के भाटसराय व भीखम अहमट गांव के ग्राम प्रधानों व तीन सचिवों के खिलाफ कारण बताओ नोटिस जारी होने से हड़कंप मचा हुआ है। इनके ऊपर स्ट्रीट लाइट व शौचालय निर्माण के अलावा राज्य वित्त 14वें में धांधली का आरोप है। साथ ही जांच के लिए जिला दिव्यांग कल्याण अधिकारी के नेतृत्व में टीम भी गठित कर दी गई है। जिला प्रशासन की ओर से यह कार्रवाई उच्च न्यायालय के आदेश के पर की गई है।

भीखम अहमट गांव निवासी ब्रजेश कुमार ने गांव में हुए शौचालय निर्माण व स्ट्रीट लाइट में भारी अनियमितता का आरोप लगाते हुए जिला स्तरीय अधिकारियों को प्रार्थना-पत्र सौंपकर जांच की मांग की थी। जांच नहीं होने पर उन्होंने उच्च न्यायालय की शरण ली। न्यायालय के आदेश के बाद जिला प्रशासन की ओर से कार्रवाई तेज करते हुए ग्राम प्रधान शांति देवी, सचिव अजित गुप्ता व मुकेश सिंह को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। वहीं भाटसराय के सुरेंद्र यादव व ग्रामीणों ने राज्य वित्त 14वें, शौचालय निर्माण व स्ट्रीट लाइट में धांधली का आरोप लगाते हुए न्याय के लिए न्यायालय की शरण ली।

न्यायालय के आदेश के बाद ग्राम प्रधान दीनानाथ व सचिव अखिलेश प्रजापति के खिलाफ जिलाधिकारी के निर्देश पर जिला पंचायत राज विभाग की ओर से नोटिस जारी किया गया है। साथ ही पूरे मामले की जांच के लिए जिला दिव्यांग कल्याण अधिकारी के नेतृत्व में टीम भी गठित कर दी गई। इसकी जानकारी होते ही कर्मचारियों व ग्राम प्रधानों में हड़कंप की स्थिति बनी हुई है। इस संबंध डीपीआरओ लालजी दुबे ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देश पर दोनों गांव के ग्राम प्रधानों व तीन सचिवों के खिलाफ नोटिस जारी किया गया है। साथ ही निर्धारित समय के अंदर जवाब देने का भी निर्देश दिया गया है।

yogi-adityanath-header

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*