नहीं मिला आरोपी तो कोतवाली पुलिस ने मासूम छोटे भाई को किया गिरफ्तार, छोड़ने के एवज में रखी यह मांग

kotwali-ghazipur

गाजीपुर। प्रदेश भर में अपराधी बेलगाम घूम रहे है और उनको पकड़ने में नाकाम पुलिस उनके परिजनों को नाहक परेशान कर रही है। ऐसे मामलो में कोतवाली पुलिस का नाम सबसे ऊपर लिया जा रहा है। मुख्य आरोपी को पकड़ पाने में नाकाम पुलिस ने घर की जीविका चला रहे नाबालिग को ही पकड़ कर हवालात में बंद कर दिया है। समजसेवियो द्वारा नाबालिग को छोड़े जाने के अनुरोध पर प्रभारी कोतवाल ने उनसे ही मुख्य आरोपी को पकड़ने की मांग कर डाली। पीड़ित परिजन पुलिस अधीक्षक से मिल मामले को अवगत कराने पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचे थे।

घटना के बारे में बताया जा रहा है कि सदर कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत फुल्लनपुर में आपसी विवाद में दोस्तों-मित्रो में कल शाम हाथापाई हो गई जिसमें एक अनुसूचित जाति के युवक का मोबाइल फोन कहि गिर गया। जिससे नाराज युवक ने कोतवाली में मोबाइल छिनैती तथा मारपीट की रिपोर्ट कर दिया। जिसपर पुलिस ने तत्काल एक्शन लेते हए आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु दबिश देना आरम्भ कर दी। किसी के न मिलने पर जीविका चलाने के लिए पान की दुकान कर रहे नाबालिग को देर रात स्टेशन रोड स्थित उसकी पान की दूकान से ही उठा लिए। उक्त नाबालिग एक आरोपी का छोटा भाई बताया जा रहा है। नाबालिग बार-बार यही कहता रहा कि उसका इस झगडे से कोई वास्ता नहीं पर पुलिस ने उसकी एक न सुनी और सीधा हवालात में डाल दिया। गिरफ्तारी करने से पूर्व कोतवाली पुलिस द्वारा परिजनों को सूचित भी नहीं किया गया।

सुबह दुकान न खुलने पर सभी को घटना की जानकारी मिली तो कुछ समाजसेवी कोतवाली पहुंच निर्दोष नाबालिग को हवालात से बाहर करने तथा छोड़ने की मांग करने लगे, जिसपर प्रभारी कोतवाल बृजेश यादव ने उन्ही से आरोपियो को पकड़ने की मांग कर डाली और गिरफ्तारी न होने तक नाबालिग को छोड़ने से इंकार कर दिया। हैरान परेशान परिजन गुहार लगाने उच्च अधिकारियो के वंहा पहुंच कोतवाली पुलिस की शिकायत का मन बना लिए थे, वंही प्रभारी कोतवाल के इस रवैये की व्यापारियों में निंदा की जा रही है।

yogi-adityanath-header

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*