बसपा के साथ गठबंधन से कमजोर हो गई समाजवादी पार्टी: मुलायम सिंह यादव

mulayam-akhilesh

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के पार्टी दफ्तर में मौजूद रहने के दौरान मुलायम सिंह यादव ने बड़ा बम फोड़ दिया। संसद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल की प्रशंसा करने के साथ एक बार उनकी सरकार आने की घोषणा कर चुके मुलायम सिंह यादव ने लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन को गलत करार दिया। उनका दर्द लखनऊ में पार्टी के कार्यकर्ताओं से बात करते हुए छलका। गठबंधन पर उन्होंने कहा कि अखिलेश ने मायावती से गठबंधन कर लिया, अब तो हमारी सीट आधी हो गई। हमारी पार्टी तो काफी मजबूत थी। हम तो 80 सीट पर आराम से लड़ते। समाजवादी पार्टी को अपने ही लोग कमजोर कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यहां पर हम राजनीति नहीं कर रहे हैं बल्कि अपनी बात रख रहे हैं। आप से अपील करने आए हैं सब छोड़ो शादी विवाह में भी जाओ तो सपा का प्रचार करो। हम शादियों में भी प्रचार करते थे कहते थे हम साधु संत हैं क्या जो पार्टी का काम नही बताएंगे।

मुलायम ने बसपा के साथ हुए सपा के गठबंधन को गलत ठहराया और कहा कि उन्हें नहीं पता कि अखिलेश यादव ने किस आधार पर राज्य की आधा सीटें बसपा को दे दीं। मुलायम ने कहा कि सपा अध्यक्ष सीटों पर प्रत्याशियों की घोषणा करने में देरी कर रहे हैं। सपा के पूर्व मुखिया ने कहा कि वह अखिलेश से ज्यादा अनुभवी हैं। उन्होंने कहा कि सपा का संरक्षक तो उन्हें बनाया गया है लेकिन कोई जिम्मेदारी नहीं दी गई है।

मुलायम सिंह यादव ने कहा कि पार्टी को खड़ा करने में हमने बड़ी मेहनत की थी। अब पार्टी को खत्म कौन कर रहा है, अपने ही लोग। इतनी मजबूत पार्टी बनी थी कि कांग्रेस व भाजपा को लोग पूछते नहीं थे। हम तो तीन बार मुख्यमंत्री बने। देश के रक्षा मंत्री भी बने थे। अपने दम पर पार्टी को शीर्ष पर लाए थे। अब अखिलेश यादव 40 सीट पर चुनाव लडऩे को तैयार हो गए हैं। हमसे तो पूछा तक नहीं कि हम कहां से लड़ेंगे।

yogi-adityanath-header

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*