शम्मी के हस्ताक्षर अभियान के समर्थन में उतरे व्यापारी, बढ़ी भाजपा की मुश्किलें

 

गाजीपुर। प्रमुख समाजसेवी विवेक सिंह शम्मी के अभियान के समर्थन में तीसरे दिन शनिवार को शहर का व्यापारी समुदाय भी बढ़चढ़ कर आगे आया। अभियान के तहत चीतनाथ में लगे स्टाल पर व्यापारी स्वतः पहुंचे और हस्ताक्षर कर अभियान के लिए अपना समर्थन जताए। निर्धारित समय समाप्त होने तक कुल करीब 5600 लोग हस्ताक्षर कर चुके थे। शम्मी का यह हस्ताक्षर अभियान गाजीपुर से चलने वाली सुहेलदेव व बांद्रा एक्सप्रेस सहित अन्य प्रमुख ट्रेनों का बलिया तक विस्तारीकरण न होने पर उनका परिचालन बंद कराने के बलिया सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त के बयान के खिलाफ है।

इस मौके पर व्यापारियों ने शम्मी के अभियान की सार्थकता की चर्चा करते हुए कहा कि अगर इन प्रमुख ट्रेनों का विस्तारीकरण बलिया तक हुआ तो गाजीपुर के लोगों को तमाम दुश्वारियां झेलनी पड़ेगी। खासकर व्यापारियों के लिए और दिक्कत होगी। पहले से ही मंदी की मार झेल रहा गाजीपुर का बाजार और बैठ जाएगा।

स्वर्णकार रमेश चंद्र अग्रहरि ने कहा कि आजादी के बाद पहली बार गाजीपुर शहर को ट्रेनों की सौगात मिली थी, लेकिन उसको राजनीति के चलते बलिया ले जाने का बलिया सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त का बयान बिल्कुल दुर्भाग्यपूर्ण है। उनका यह प्रयास सफल हुआ तो गाजीपुर की जनता अपने आपको ठगा महसूस करेगी। वरिष्ठ व्यापारी नेता संतोष कुमार वर्मा ने कहा कि वह ट्रेनें गाजीपुर से ही चलनी चाहिए। यह गाजीपुर की जनता की भावनाओं से जुड़ा मामला है।

हस्ताक्षर अभियान में सभासद सुशील वर्मा, विक्की वर्मा, अब्दुल अजीज, कल्लू रावत, मनोज वर्मा, संतोष वर्मा, उदय वर्मा, सुरेश पटवा, राहुल, मंजीत आदि थें। अभियान के क्रम में 20 अक्टूबर को महुआबाग में शाम तीन से रात नौ बजे तक स्टाल लगेगा। पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत अभियान 21 अक्टूबर तक चलेगा। कम से कम दस हजार लोगों का हस्ताक्षर कराने का लक्ष्य है। उसके बाद 22 अक्टूबर की सुबह 11 बजे उन जन हस्ताक्षरों सहित रेल मंत्री को संबोधित ज्ञापन डीएम को सौंपा जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *